20170507

सुरेश चन्द्र शुक्ल 'शरद आलोक' से आत्मीय संलाप

नॉर्वे में निवासरत रचनाकर श्री सुरेश चन्द्र शुक्ल 'शरद आलोक' का उज्जैन आगमन यादगार रहता है। उज्जैन प्रवास पर उनकी टिप्पणी और लिंक के लिये आत्मीय धन्यवाद।

प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा

वे लिखते हैं-
विश्व हिंदी संग्रहालय एवं अभिलेखन केंद्र  
बहुत से लोग मध्यप्रदेश, भारत की प्राचीन नगरी  उज्जैन को महाकाल मंदिर कालिदास की कर्मस्थली के रूप में जानते हैं।वहां विक्रम विश्वविद्यालय का हिंदी विभाग, लोककला संग्रहालय के अतिरिक्त विश्व हिंदी संग्रहालय की परिकल्पना और उसको निरंतर विकास के आयाम देने में रत साहित्यकार बन्धु प्रो.  शैलेन्द्रकुमार शर्मा के साथ मुझे सबसे पहले दिसंबर 2013 में और उसके बाद कई बार देखने का अवसर मिला है। आशा है जहां आगे चलकर हिंदी का वैश्विक केंद्र स्थापित होगा - शरद आलोक
डॉ शुक्ल का ब्लॉग लिंक और परिचय देखें:

http://sureshshukla.blogspot.in/2013/03/blog-post_13.html

Suresh Chandra Shukla


I am an Indian born Hindi poet,writer and Film director setteled in Oslo,Norway.I am member of following institutions : 1. Norwegian journlist union. 2. Norwegian Film Association 3. Norwegian writer center 4. Editor of cultural magazines SPEIL and VAISHVIKA and www.speil.no I writes regularly in Hindi and Norwegian both languages.I am the author of the many books in Hindi and Norwegian literature like: POETRY IN HINDI: ---------------- * Vedna * Rajni * Nange paanvon ka sukh * Deep jo bujhte nahi * Sambhavnao ki talash * Ekta ke swar * Neer mein phanse pank.... POETRY IN NORWEGIAN: -------------------- * Fremede fugler * Mellom linjene COLLECTION OF SHORT STORIES: ---------------------------- * Ardhratri Ka Suraj * Prawasi Kahaniyan TRANSLATION FROM NORWEGIAN/DANISH TO HINDI: ------------------------------------ * Norway ki lokkathayen * Hans Kristian Anderson ki kathayen I can be reached through following addresses : sshukla@online.no speil.nett@gmail.com
























कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें